मन क्यों बहका री बहका आधी रात को, Lyrics of Man Kyon Behka Re | Lata Mangeshkar, Asha Bhosle

मन क्यों बहका री बहका आधी रात को लिरिक्स (Lyrics of Man Kyon Behka Re Behka Aadhi Raat Ko) यह गीत फिल्म उत्सव से हैं। इस गाने को  लता मंगेशकर और आशा भोसले ने गाया हैं। इसका संगीत लक्ष्मीकांत और प्यारेलाल ने लिखा है और गीत वसंत देव ने लिखे हैं।

गाने में दर्शाया गया है कि, चारुदत्त की पत्नी वसंतसेना के साथ गीत साझा करती है, शिष्टाचार जो उसे प्यार करता है। यह दोनों महिलाओं को उनके अकेलेपन के बारे में बात करते हुए दिखाता है कि उनके आदमी उन्हें कंपनी रखने के लिए आते हैं। गीत का सबसे खूबसूरत हिस्सा दोनों के बीच ईर्ष्या का पूर्ण अभाव है।


Lyrics of Man Kyon Behka Re Behka Aadhi Raat Ko
Lyrics of Man Kyon Behka Re Behka Aadhi Raat Ko

मन क्यों बहका री बहका आधी रात को | लिरिक्स 


मन क्यों बहका री बहका

मन क्यों बहका री बहका आधी रात को

बेला महका हो

बेला महका री मेहका आधी रात को

हो मन क्यों बहका री बहका आधी रात को

बेला महका री मेहका आधी रात को


किसने बंसी बजायी आधी रात को ?

हो किसने बंसी बजायी आधी रात को ?

जिसने पलकें हो

जिसने पल्कें चुराई आधी रात को

हो मन क्यों बहका री बहका आधी रात को

बेला महका री मेहका आधी रात को


झांझर झमके सुन झमके

हो झांझर झमके सुन झमके

झांझर झमके सुन झमके

आधी रात को ओ ओ ओ

उसको तोको न रोको

तोको न रोको आधी रात को


हो लाज लगे लागे आधी रात को

लाज लगे ऋ लागे आधी रात को

देना सिन्दूर के सौं आधी रात को

बेला महका री मेहका आधी रात को

हो मन क्यों बहका री बहका आधी रात को

बेला महका री मेहका आधी रात को


बात कहते बने क्या आधी रात को

आँख खुलेगी बात आधी रात को

बात कहते बने क्या आधी रात को

आँख खुलेगी बात आधी रात को

हमने पी चाँदनी आधी रात को


हो हो हमने पी चाँदनी आधी रात को

चाँद आँखों में आया आधी रात को

बेला महका री मेहका आधी रात को

हो मन क्यों बहका री बहका आधी रात को

बेला महका ऋ मेहका आधी रात को


रात गुंती रहेगी आधी बात को

आदि बातों की पीर आधी रात को

रात गुंती रहेगी आधी बात को

आदि बातों की पीर आधी रात को

बात पूरी है कैसे आधी रात को


रात होती हो

रात होती शुरू है आधी रात को

मन क्यों बहका री बहका आधी रात को

बेला महका री मेहका आधी रात को

हो मन क्यों बहका री बहका

बेला महका री मेहका

मन क्यों बहका

बेला महका

मन क्यों बहका

बेला महका.

...


Lyrics of Man Kyon Behka Re | Video


Lyrics of Man Kyon Behka Re Behka Aadhi Raat Ko


Man Kyon Behka Re Behka Aadhi Raat Ko Lyrics

Man kyon bahaka ri bahaka adhi raat ko

Bela mahaka ri mahaka adhi raat ko

Kisane bansi bajaai adhi raat ko

Jisane palaki churaai adhi raat ko


Jhaanjhar jhamake, sun jhamake adhi raat ko

Usako toko na roko, roko na toko, toko na roko, adhi raat ko

Laaj laage ri laage adhi raat ko

Dena sindur ke soun adhi raat ko


Baat kahate bane kya adhi raat ko

Ankh kholegi baat adhi raat ko

Ham ne pi chaandani adhi raat ko

Chaand ankhon men aya adhi raat ko


Raat gunati rahegi adhi baat ko

Adhi baaton ki pir, adhi raat ko

Baat puri ho kaise adhi raat ko

Raat hoti shuru hai adhi raat ko

...

🎧 Song Credits:

Song Name - Man Kyoon Behka Re Behka Aadhi Raat Ko | Lyrics

Movie - Utsav

Actors - Rekha , Anuradha Patel

Singer - Lata Mangeshkar, Asha Bhosle

Lyrics - Vasant Dev

Music Composer - Laxmikant - Pyarelal

Music Label - Sony Music India-550 Music 

© 1984 Sony Music Entertainment India Pvt. Ltd.

Post a Comment

Previous Post Next Post